सोमवार, 31 जनवरी 2011

योग के जरिए आध्यात्मिक व नैतिक उन्नति व भ्रष्टाचार के खिलाफ लड़ने के लिए लोगों को जागरूक बनाना -भारत स्वाभिमान यात्रा का मुख्य लक्ष्य


सोमवार, ३१ जनवरी २०११

योग के जरिए आध्यात्मिक व नैतिक उन्नति व भ्रष्टाचार के खिलाफ लड़ने के लिए लोगों को जागरूक बनाना -भारत स्वाभिमान यात्रा का मुख्य लक्ष्य

योग के जरिए आध्यात्मिक व नैतिक उन्नति व भ्रष्टाचार के खिलाफ लड़ने के लिए लोगों को जागरूक बनाना -भारत स्वाभिमान यात्रा का मुख्य लक्ष्य 

  •  झूठी है केंद्र  सरकार
  • बाबा रामदेव ने कहा काला धन वापस लाकर ही दम लेंगे
  • सामाजिक नहीं, राजनीतिक समस्या 
  • राजनीतिक महत्वाकांक्षा नहीं 

योगगुरु स्वामी रामदेव ने बिलासपुर प्रवास के दौरान केंद्र  सरकार को झूठी  करार करते हुए भ्रष्टाचार  को  राजनीतिक समस्या  बताया और कहा की वे राजनिती से दूर देश की सेवा मे ही विश्वाश करते है ,उनके भारत स्वाभिमान यात्रा एवं एक दिवसीय नि:शुल्क योग शिविर में आज रविवार को विज्ञानं महाविद्यालय  के प्रागंण में योग गुरू बाबा रामदेव को सुनने लोगों की भीड़ तड़के से ही उमडी थी।उन्होंने कहा कि हर युवा को नियमित रूप से योग करना चाहिए। योग करने से न केवल तन स्वस्थ रहता है, बल्कि मन भी शुद्ध रहता है। स्वस्थ शरीर और शुद्घ मन हमेशा लोगों को अच्छा कार्य करने के लिए प्रेरित करते हैं। उन्होंने कहा कि नक्सलवादी, माओवादी या आतंकवादी बनकर अपना जीवन खराब मत करो। बाबा रामदेव ने उपस्थित लोगों को योग क्रिया के अंतर्गत कपालभाती,अनुलोम-विलोम, बज्राशन समेत विभिन्न आसन की जानकारी दी।
इस अवसर पर उन्होनें ने उपस्थित लोगों को संबोधित करते हुए कहा कि देश में हो रहे विभिन्न घोटालो पर केन्द्र के सरकार पर सीधा प्रहार किया। उन्होनें कहा कि  देश में टूजी स्प्रेक्टम, कॉमनवेल्थ खेलों में तथा आदर्श सोसायटी जैसे बड़े-बड़े घोटाले हुये है परंतु घोटालेबाजों पर कार्रवाई नहीं हुई है, भगवान के नाम की अपेक्षा घोटालों के नामों की संख्या ज्यादा  है,जिसे खत्म किया जाना आवश्यक है। 
 भारत स्वाभियान मंच के माध्यम से केन्द्र में बैठी सरकार के कानों तक आवाज बुलंद करते हुए विदेश में जमा पूंजी वापस लाने, भ्रष्टाचार मिटाने की मांग करेंगें इसके बाद भी सरकार जागी नही तो देश की जनता के साथ हम सरकार को उखाड़ फेंकेंगे।पूरे भारत देश में 80 प्रतिशत लोग गरीबी रेखा के नीचे जीवन-यापन कर रहे हैं परंतु देश का पैसा स्विजरलैंड में जमा है, जो बेईमानी का पैसा है जिसे वापस लाना हैं। यह आम जनता व देशहित के लिये होगा, मगर वे कुर्सी नही लेगें भष्ट्राचार मुद्दे पर पूछे गये प्रश्न कि उनकी संस्था को लाखो की चंदा देने वाले व्यक्ति क्या ईमानदारी की कमाई दान दे रहे है, पर उन्होनें कहा कि यह सच है कि देश की 80 प्रतिशत जनता गरीब है मगर कुछ लोग जो ऊंची आमदनी का थोड़ा हिस्सा अच्छे कार्यो के लिये दान कर रहे है। 
   बाबा रामदेव ने कहा कि विदेशी बैंक में भारत देश का दो लाख करोड़ रूपये काले धन के रूप में जमा है। जिसे  सहयोग से वापस लाया जायेगा, ऐसा होने के बाद एक ही दिन में हमारा भारत वर्ष विश्व की सबसे बड़ी आर्थिक महाशक्ति वाला देश बन जायेगा।उन्होंने कहा कि देश में भष्ट्राचार बढ़ रहा है जिसके चलते गरीबी की स्थिति दयनीय होती जा रही है इस पर केन्द्र सरकार किसी तरह की कार्यवाही नही कर पा रही है। उन्होंने कहा कि देश के बच्चों को अब तक समान शिक्षा नहीं मिल पाया है और न ही लोगों को सही तरीके से चिकित्सकीय सुविधाएं मिल रही है, योग गुरू बाबा रामदेव ने कहा भारत में गरीबी को मिटाना है, तभी भारत को सही मायने में आजादी मिलेगी. बेबस गरीब व लाचार व्यक्ति के बारे में अब हमें सोचना होगा. आज भी क्रांति नहीं होगी तो कब होगी, पूरे देश में परिवर्तन की क्रांति को आग की लपेटे उठ रही है. उन्होंने कहा कि भारत के गांव में रहने वाले लोगों को उनका हक मिलना चाहिए. गरीब परिवार का बच्चा आज भी अनपढ़ है। जिसे शिक्षित किये जाने का संकल्प किया गया है। देश का विकास नहीं अपितु विनाश हो रहा है, उन्होंने कहा कि देश में विधायिका, कार्यपालिका के साथ-साथ न्याय पालिका में भी गड़बड़ी हो रही है जो चिंता का विषय है।
 उन्होंने भ्रष्टाचार, बलात्कार व मिलावटी करने वालो को फांसी की सजा दी जानी चाहिए. बाबा रामदेव ने कहा कि देश में बढ़ रही भ्रष्टाचार के खिलाफ भारत स्वाभिमान मंच द्वारा प्रधानमंत्री को 30 जनवरी को जिला स्तर पर, 27 फरवरी को तहसील स्तर पर तथा 23 मार्च को गांव स्तर पर ज्ञापन सौंपा जायेगा,इसी क्रम मे उन्होंने बृहस्पति बाज़ार से कार्य कर्ताओ के साथ मार्च करते हुए बिलासपुर  जिलाधीश को रास्ट्रपति के नाम का ज्ञापन सौपा|
भ्रष्टाचारियों के खिलाफ मुहिम छेड़ने के बाबा रामदेव के आह्वान पर शहरवासियों ने खुलकर अपनी रजामंदी दिखाई है।स्वामी रामदेव ने शिविर के बाद अपने समर्थकों के साथ सीधे कलेक्ट्रोरेट पहुंचे औरकलेक्ट्रोरेट स्थित मंथन सभाकक्ष में प्र कलेक्टर सोनमणी बोरा को राष्ट्रपति और प्रधानमंत्री के नाम ज्ञापन सौंपा। कलेक्टर को राष्ट्रपति और प्रधानमंत्री को सौंपे ज्ञापन में अंचल के ५0 हजार से ज्यादा लोगों ने हस्ताक्षर किए हैं। बाबा ने इस ज्ञापन के माध्यम से मांग की है कि-
  •  विदेशों में जमा कालाधन वापस लाया जाए, 
  • बड़े नोटों का चलन देश से समाप्त किया जाए,
  •  युनाइटेड नेशन के समझौते लागू किए जाए और भ्रष्टाचारी,
  •  बलात्कारी व मिलावटखोरों के लिए मौत की सजा का प्रावधान किया जाए



 उन्होंने बलिदान दिवस के दिन रास्ट्रपिता को श्रद्धा सुमन अर्पित करते हुए जिला परिसर बिलासपुर मे महात्मा गाँधी जी की प्रतिमा पर माल्यार्पण भी किया |
वे को शनिवार को जांजगीर -मस्तुरी होते हुए बिलासपुर पहुचे थे. बिलासपुर आगमन पर एल्डर मेन अमरजीत दुआ , पतंजलि योग्समती के श्री सुनील टुटेजा ,अनिल गाँधी ओर पंजाबी युवा समिति द्वारा जगमल चौक मे भव्य स्वागत किया गिया |
 राष्ट्रीय स्वाभिमान मंच के बैनर तले भ्रष्टाचारियों के खिलाफ मुहिम छेड़ने और अपने अभियान में समर्थकों के साथ ही आम लोगों को शामिल करने छग की यात्रा पर आए योग गुरु ने लोगों के सामने खुलकर अपनी बात रखी। उनकी बेबाकी से राजनीतिक दल के नेताओं व कार्यकर्ताओं से लेकर आम लोग भी प्रभावित हुए बिना नहीं रहे। बिलासपुर जिले में बाबा ने मस्तूरी और सीपत ,बिलासपुर के साथ उन्होंने मुंगेली मे भी सभाएं ली आम लोगों ,समर्थकों व पतंजलि योगपीठ से जुड़े पदाधिकारियों से भी रूबरू हुए। पदाधिकारियों व समर्थकों के बीच पीठ के कामकाज को लेकर चर्चा करते रहे।
योगगुरु बाबा रामदेव ने रविवार को अशोक नगर में आर्य समाज की नई यज्ञशाला का लोकार्पण किया। इसे आर्य समाज, महिला आर्य समाज गोड़पारा और आर्य धर्मशाला न्यास अशोक नगर से सहयोग से निर्मित किया गया है।कार्यक्रम की अध्यक्षता करते हुए छत्तीसगढ़ प्रांत के आर्य प्रतिनिधि प्रधान आचार्य दयासागरजी महराज ने कहा कि शुभ मुहूर्त में बाबा रामदेव महराज द्वारा सेवाधाम, यज्ञशाला और योग प्रशिक्षण केन्द्र का शुभारंभ किया गया है। इस सेवाधाम के माध्यम से वैदिक यज्ञ, योग व सेवा जैसे सत्‌कर्मों का संदेश जन-जन तक पहुंचेगा।उन्होंने कहा कि १० वर्षों के अंदर भारत को विश्वगुरु बनाने के लिए हम सभी को संकल्प लेना चाहिए और दृढ़ संकल्प के साथ इस दिशा में काम करना चाहिए। उन्होंने कहा कि हर कार्यकर्ता को दो चीजों पर विशेष ध्यान देना होगा,जिसमें एक है सेवा और दूसरा है कर्म। 
अपने प्रवास के अंतर्गत स्वामी रामदेव ने कहा कि भ्रष्टाचार को रोकने और विदेशों में काला धन जमा होने से रोकने के लिए अगर केंद्र सरकार समय रहते उचित कदम नहीं उठाती है तो जरूरत पड़ने पर राजनीति में आकर यह लड़ाई लगेंगे, लेकिन उनकी पार्टी में केवल भ्रष्टाचारियों के खिलाफ लड़ने वाले लोग ही शामिल होंगे। बिलासपुर प्रवास में उन्होंने संकेत दिया कि यात्रा का उद्देश्य पूरा न हुआ तो इस साल के अंत में वे एक बेदाग छवि वाली पार्टी बनाएंगे।उन्होंने कह कि भ्रष्टाचार सामाजिक नहीं, बल्कि राजनीतिक समस्या है। जरूरत पड़ी तो इससे इसी लहजे से ही निपटा जाएगा।
भारत स्वाभिमान यात्रा के दो उद्देश्य बताये -
  1. योग के जरिए लोगों को आध्यात्मिक व नैतिक उन्नति के लिए प्रोत्साहन ,
  2. लोगो को  भ्रष्टाचार के खिलाफ लड़ने के लिए जागरूकता  बनाना ,ताकि देश एक बार फिर विश्वगुरु की श्रेणी में काबिज होते हुए सबसे ताकतवर देश बन सके।
 उन्होंने बताया कि विदेशों में जमा 450 लाख करोड़ रुपए यदि देश में आ जाए तो इससे भारत अमेरिका को  पछाड़ते हुए उससे पांच गुना ज्यादा आर्थिक ताकत वाला देश बन सकता है। जापान का उदाहरण देते हुए उन्होंने कहा कि जापान छत्तीसगढ़ राज्य से भी छोटा है, लेकिन वहां के लोग अपने देश के प्रति इतने वफादार हैं कि आर्थिक व सामरिक ताकत में वह भारत से चार गुना बड़ा है।
स्वामी रामदेव ने कहा कि राजनीतिक हथकंडों को उसी तरीके से हल करना जरूरी है, इसीलिए उन्होंने भ्रष्टाचार को जड़ से मिटाने के लिए राजनीतिक हस्तक्षेप का सहारा लिया है। यह काम देश के हर व्यक्ति को करना चाहिए, जिससे देशद्रोह पर अंकुश लग सके,उन्होंने कहा कि मे कभी चुनाव नहीं लडूंगा-रामदेव योगी पैदा हुआ और योगी ही दुनिया से विदा लेगा|बाबा रामदेव ने दो टूक शब्दों में कहा कि वे राजनीतिक महत्वाकांक्षा नहीं रखते। न तो वे कोई चुनाव लड़ेंगे और न ही कोई पद लेंगे। देश के गद्दारों द्वारा विदेशी बैंकों में जमा पैसा भारत लाना और उसे विकास में लगाना ही उनका मकसद है। 

5 टिप्‍पणियां:

  1. बाबा रामदेव से ही उम्मीदें हैं

    उत्तर देंहटाएं
  2. विदेशों में जमा कालाधन वापस लाया जाए,
    बड़े नोटों का चलन देश से समाप्त किया जाए,
    हम भी बाबा जी से सहमत है
    मुकेश भइया इस ज्वलंत मुद्दे के प्रचार प्रसार और आप के ब्लॉग में इसे स्थान देने के लिए आप को
    धन्यवाद

    उत्तर देंहटाएं
  3. अच्छी लेखनी के लिए बधाई भैया !

    उत्तर देंहटाएं
  4. Hi Kiran,
    I'm already done to Like your page.
    So here is mine
    http://www.facebook.com/pages/Max-Ginez-III/201134463271912
    Please visit my Blog too.
    http://maxginez3.blogspot.com/
    Thanks

    उत्तर देंहटाएं